Home Breaking News Chandra Grahan or Lunar Eclipse June 2020:वर्ष 2020 में पहले से ही...

Chandra Grahan or Lunar Eclipse June 2020:वर्ष 2020 में पहले से ही अब तक दो चंद्र ग्रहण देखे जा चुके हैं।

साल का तीसरा ग्रहण या चंद्रग्रहण 5 जुलाई को होने वाला है। गुरु पूर्णिमा यानि 5 जुलाई को लगने वाले चंद्र ग्रहण का प्रारंभ सुबह 08 बजकर 37  मिनट पर होगा। परमग्रास चन्द्र ग्रहण का समय 09 बजकर 59 पर होगा। ग्रहण का मोक्ष काल दिन में 11 बजकर 21 मिनट पर होगा। ऐसे में देखा जाए तो इस चंद्र ग्रहण का कुल समय 02 घण्टा 43 मिनट 24 सेकेण्ड है।5 जुलाई को ही गुरु पूर्णिमा  का पर्व भी है।

 

chandra grahan 2020

:कहां दिखेगा चंद्र ग्रहण?
5 जुलाई लगने वाला ये चंद्र ग्रहण अमेरिका, अफ्रीका और यूरोप में दिखाई देगा। ये ग्रहण भारत में नहीं दिखाई देगा और उसका सूतक भी भारत में मान्य नहीं होगा। सूतक के सारे नियम पूर्ण ग्रहण में माने जाते हैं।

क्या है चंद्र ग्रहण का प्रभाव
21 जून को लगे सूर्य ग्रहण का प्रभाव 21 दिनों तक रहेगा और साथ में 5 जुलाई को चंद्र ग्रहण लगने की वजह से स्थितियां थोड़ी बिगड़ सकती हैं लेकिन घबराने की कोई बात नहीं है। भले ही एक महीने के अंदर तीन ग्रहण लगे हों लेकिन इन्हें एक ही माना जाएगा क्योंकि इन तीनों ग्रहण में सिर्फ सूर्य ग्रहण ही पूर्ण रूप से लगा था।

नासा के अनुसार, चंद्र ग्रहण तब होता है जब पृथ्वी सूर्य और चंद्रमा के बीच आती  है। जब ऐसा होता है, तो पृथ्वी सूर्य के प्रकाश को अवरुद्ध करती है जो सामान्य रूप से चंद्रमा द्वारा परिलक्षित होती है। चंद्रमा की सतह पर प्रकाश पहुंचने के बजाय, पृथ्वी की छाया उस पर पड़ती है।

एक पेनुमब्रल ग्रहण केवल चंद्रमा के चेहरे पर एक अंधेरा छायांकन बनाता है। यदि चंद्रमा पृथ्वी के अंधेरे केंद्रीय छाया से होकर गुजरता है, जिसे अम्ब्रा भी कहा जाता है, तो आंशिक या कुल चंद्र ग्रहण होता है। हालांकि, यदि खगोलीय पिंड, छाया के बाहरी भाग या छाया से होकर गुजरता है, तो एक पेनुमब्रल ग्रहण होता है।

चंद्र ग्रहण तीन मूल प्रकार के होते हैं – एक सूक्ष्म प्रथमाक्षर ग्रहण, एक आंशिक ग्रहण और एक पूर्ण ग्रहण।

परंपरागत रूप से जुलाई की पूर्णिमा को बक मून कहा जाता है  फोर्ब्स के अनुसार, बक चंद्र ग्रहण पूर्ण चंद्रमा के लगभग 35 प्रतिशत पृथ्वी की बाहरी छाया में दिखाई देगा और इसकी कुछ चमक खो देगा।

इस साल का आखिरी पेनुमब्रल चंद्रग्रहण 29-30 नवंबर को होगा।

Must Read

दीपिका पादुकोण के लव आज कल पोस्ट पर आलिया भट्ट ने यह टिप्पणी छोड़ दी.

आलिया भट्ट और दीपिका पादुकोण अक्सर अपने इंस्टाग्राम एक्सचेंज के लिए ट्रेंड करती हैंनई दिल्ली: आलिया भट्ट और दीपिका पादुकोण ने शुक्रवार रात एक...

अयोध्या राम मंदिर पहले से अधिक भव्य है, इसके वास्तुकार कहते हैं

राम मंदिर, अयोध्या: वास्तुकला की नगाड़ा शैली में निर्मित होने वाले मंदिर में दो के बजाय पांच गुंबद होंगे, जैसा कि अधिक संख्या में...

संजू सैमसन के कोच को लगता है आईपीएल “गोल्डन चांस” बुक टी 20 विश्व कप के लिए.

संजू सैमसन के कोच बीजू जॉर्ज का मानना है कि आईपीएल में अच्छा प्रदर्शन केरल के स्टार को अगले साल होने वाले टी 20...

14 अगस्त से शुरू होगी राजस्थान विधानसभा, राज्यपाल कलराज मिश्र ने दिए आदेश.

राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्र ने बुधवार को अशोक गहलोत के नेतृत्व वाली राज्य सरकार द्वारा 14 अगस्त से विधानसभा सत्र बुलाने के लिए...

चीन, पाकिस्तान के खिलाफ भारत के राफेल फाइटर जेट्स ने कितना सक्षम बनाया

मल्टी बिलियन डॉलर के सौदे में फ्रांस से खरीदा गया पहला पांच राफेल बुधवार को देश में उतरा।नई दिल्ली: 150 किलोमीटर दूर तक हवा...